Home Hindi Page 2

Hindi

ऐसा नहीं है कि हिन्दी में अच्छे ब्लॉग लिखने वालों की कमी है। हिन्दी में लोग एक से एक बेहतरीन ब्लॉग्स लिख रहे हैं। पर एक चीज़ की कमी अक्सर खलती है। जहां ब्लॉग पर अच्छा कन्टेन्ट है वहां एक अच्छी क्वालिटी की तस्वीर नहीं मिलती और जिन ब्लॉग्स पर अच्छी तस्वीरें होती हैं वहां कन्टेन्ट उतना अच्छा नहीं होता। मैं साहित्यकार के अलावा एक ट्रेवल राइटर और फोटोग्राफर हूँ। मैंने अपने इस ब्लॉग के ज़रिये इस दूरी को पाटने का प्रयास किया है। मेरा यह ब्लॉग हिन्दी का प्रथम ट्रेवल फ़ोटोग्राफ़ी ब्लॉग है। जहाँ आपको मिलेगी भारत के कुछ अनछुए पहलुओं, अनदेखे स्थानों की सविस्तार जानकारी और उन स्थानों से जुड़ी कुछ बेहतरीन तस्वीरें।

उम्मीद है, आप को मेरा यह प्रयास पसंद आएगा। आपकी प्रतिक्रियाओं की मुझे प्रतीक्षा रहेगी। आपके कमेन्ट मुझे इस ब्लॉग को और बेहतर बनाने की प्रेरणा देंगे।

मंगल मृदुल कामनाओं सहित आपकी हमसफ़र आपकी दोस्त

डा० कायनात क़ाज़ी

राजस्थान का सबसे रोमांटिक शहर-उदयपुर

the-most-romantic-city-Udaipur-Madhya-Pradesh-KaynatKazi-Photography-2016-www.rahagiri.com-22-of-27-960x636
दोस्तों मुझसे अक्सर यह सवाल पूछा जाता है, कि आप देश और दुनिया मे इतना घूमती हैं, आपको सबसे ज़्यादा कौनसी जगह पसंद आई? वैसे इस सवाल का जवाब देना बड़ा ही मुश्किल है। क्योंकि हमारे देश का हर शहर हर राज्य अपने आप मे कुछ विशेषताएँ समेटे हुए है। जिनकी आपस मे तुलना नही की जा सकती। यही...

गोवा का वीवा कार्निवाल-नहीं देखा तो कुछ भी नहीं देखा 

Goa-Carnival-2017-©Kaynat-Kazi-Photography-www.rahagiri.com-36-of-39-960x636
मैं अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौक़े पर खुद को ट्रीट देना चाहती थी तो सोचा क्यों न ऐसी जगह जाया जाए जहाँ महिलाऐं सबसे ज़्यादा सुरक्षित हैं। हमारे देश में यह सम्मान हांसिल है अरेबियन सी से जुड़े एक छोटे से मगर बेहद शांत राज्य गोआ को। यहाँ देश विदेश से पूरे साल सैलानी सुकून के पल बिताने आते...

कुछ रोचक जानकारियां फ्लॉवर शो के बारे में…

Kaukenhof-tulip-garden-Holland-KaynatKazi-Photography-2016-12-of-48
कुछ रोचक जानकारियां फ्लॉवर शो के बारे में... दोस्तों ऐसा कौन होगा जिसे फूल पसंद न हो? फूल प्रकृति माँ का एक ऐसा तोहफा है जोकि चुटकियों में आपका मूड फ्रेश कर देता है। आप कितने ही गुस्से में हों फूल देख कर आपके चेहरे पर मुस्कान आ ही जाएगी। यह मेरे अलावा वैज्ञानिक अनुसन्धान भी कहते हैं। एक शोध...

सैर कर दुनिया की गाफिल, जिंदगानी फिर कहां?

IMG_0085-960x636
दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्रा कोमल के पिता निर्यात के बड़े कारोबारी हैं। ऐसो-आराम में पली बढ़ी कोमल के लिए बचपन से ही परिवार के साथ घूमने जाना जिंदगी का एक हिस्सा रहा है। लेकिन एक बार जब वह कालेज के दोस्तों के साथ अचानक अल्मोड़ा की यात्रा पर गई तो मानों उसकी जिंदगी ही बदल गई। कोमल कहती हैं, “यह...

अगर यूरोप जा रहे हैं पहली बार तो रखें इन बातों का ख्याल?

IMG_1972-1-960x636
  क्या फॉरेन ट्रिप की प्लानिंग ने सिर चकरा दिया? क्या वीसा के झंझट आपको समझ नहीं आते? यूरोप में कहाँ ठहरें? बजट में कैसे यूरोप घूमा जाए? अगर ऐसे सवाल आपको परेशान करते हैं तो यह पोस्ट ज़रूर पढ़ें। दोस्तों अपने देश में घूमना जितना आसान और सस्ता है उतना शायद दुनिया में कहीं भी नहीं है। लेकिन आप अगर यूरोप घूमने जाना चाहते...

वर्ड क्लास एडवेंचर स्पोर्ट्स का मज़ा लें जल महोत्सव में …

Jal-Mahotsav-Madhya-Pradesh-KaynatKazi-Photography-2016-www.rahagiri.com-60-of-95-960x636
वर्ड क्लास एडवेंचर स्पोर्ट्स का मज़ा लें जल महोत्सव में … जब जल महोत्सव का बुलावा आया तो मैंने हमेशा की तरह गूगल पर जाकर यह जानने की कोशिश की के यह जल महोत्सव होता कहाँ है? हनुवंतिया के बारे मे मुझे कुछ ज़्यादा पता नही था सिवाए इसके की यह मध्य परदेश मे है कहीं इंदौर के पास। मैं...

एक दिन डल लेक पर तैरते हाउस बोट पर….

Kashmir_KaynatKaziPhotography_2015-234
  दोस्तों कश्मीर की वादियों में दिन गुज़ारना शायद सब को पसंद आता होगा और इस यात्रा का एक और बड़ा आकर्षण है वह है हाउस बोट में ठहरना। अगर हिंदी सिनेमा की सत्तर के दशक की फिल्मों की बात करें तो उन फिल्मो में अक्सर कश्मीर की वादियों की शूटिंग देखने को मिलती थी और जिसमे हाउस बोट मुख्य...

गुजरात से लाइव: कहानी नमक की….

Runn-Utsav-2016-KaynatKazi-Photography-2016-www.rahagiri.com-80-of-83-1-960x636
गुजरात से लाइव: कहानी नमक की....   हम जैसे-जैसे कच्छ की और बढ़ रहे हैं हवा में नमक की मौजूदगी महसूस होने लगी है। हम समुन्दर से बहुत दूर नहीं हैं। हमारे उलटे हाथ की तरफ कुछ मीलों के फासले पर समुद्री रेखा शुरू होती है। सड़क के आस पास नमक के मैदान दिखने लगे हैं जहाँ बड़ी-बड़ी क्यारियां बना कर...

रंण उत्सव-2016:रंण उत्सव तो एक बहाना है, गुजरात मे बहुत कुछ दिखाना है….

Runn-Utsav-2016-KaynatKazi-Photography-2016-www.rahagiri.com-19-of-83-960x636
रंण उत्सव-2016 रंण उत्सव तो सिर्फ़ एक बहाना है,  गुजरात मे बहुत कुछ दिखाना है.... यह लाइन किसी ने सही कही है, क्यूंकि रंण उत्सव के बहाने ही मैने बहुत कुछ ऐसा देख डाला जिसे देखने शायद अलग से मैं कभी आती ही नही गुजरात। इस बार मौक़ा था रंण उत्सव मे जाने का। चार दिन की मेरी यह तूफ़ानी यात्रा...

कुम्भलगढ़ फेस्टिवल की छटा है निराली

Kumbhalgarh-festival-2016-KaynatKazi-Photography-2016-www.rahagiri.com-13-of-32-960x636
कुम्भलगढ़ फेस्टिवल की छटा है निराली Gair Dance at Kumbhalgarh Festival सच कहूँ तो पहले कभी सुना नही था मैंने यह नाम। कुम्भलगढ़ को जानती ज़रूर थी लेकिन उसके विशालतम दुर्ग के लिए न कि फेस्टिवल के लिए, और इतना जानती थी कि ग्रेट वाल ऑफ़ इंडिया भी यहीं है।  राजस्थान टूरिज़्म की तरफ से जब न्योता आया तो जिज्ञासा हुई...

Must Read

Delhi Metro

How useful Delhi metro route app

दोस्तों अगर आप जा रहे हैं दिल्ली घूमने और चाहते हैं कि थोड़ी बचत की जाए तो आप यूज़ कीजिये दिल्ली मेट्रो। यह लगभग...