Home Hindi

Hindi

ऐसा नहीं है कि हिन्दी में अच्छे ब्लॉग लिखने वालों की कमी है। हिन्दी में लोग एक से एक बेहतरीन ब्लॉग्स लिख रहे हैं। पर एक चीज़ की कमी अक्सर खलती है। जहां ब्लॉग पर अच्छा कन्टेन्ट है वहां एक अच्छी क्वालिटी की तस्वीर नहीं मिलती और जिन ब्लॉग्स पर अच्छी तस्वीरें होती हैं वहां कन्टेन्ट उतना अच्छा नहीं होता। मैं साहित्यकार के अलावा एक ट्रेवल राइटर और फोटोग्राफर हूँ। मैंने अपने इस ब्लॉग के ज़रिये इस दूरी को पाटने का प्रयास किया है। मेरा यह ब्लॉग हिन्दी का प्रथम ट्रेवल फ़ोटोग्राफ़ी ब्लॉग है। जहाँ आपको मिलेगी भारत के कुछ अनछुए पहलुओं, अनदेखे स्थानों की सविस्तार जानकारी और उन स्थानों से जुड़ी कुछ बेहतरीन तस्वीरें।

उम्मीद है, आप को मेरा यह प्रयास पसंद आएगा। आपकी प्रतिक्रियाओं की मुझे प्रतीक्षा रहेगी। आपके कमेन्ट मुझे इस ब्लॉग को और बेहतर बनाने की प्रेरणा देंगे।

मंगल मृदुल कामनाओं सहित आपकी हमसफ़र आपकी दोस्त

डा० कायनात क़ाज़ी

बौद्ध धर्म की उदय स्थली -सारनाथ

KKP_Sarnath-1-960x636
  उत्तर प्रदेश कीधार्मिक तथा सांस्कृतिकनगरी वाराणसी से12 किलोमीटर  दूरअति प्राचीन नगरऔर बौद्धों कातीर्थ सारनाथ स्थितहै।  इसकानिर्माण 500 ईस्वी मेंसम्राट अशोक द्वारा249 ईसा पूर्व बनाएगए एक स्तूपव अन्य कई स्मारक केस्थान पर किया गया था।ज्ञान प्राप्त करनेके बाद यहींपर भगवान बुद्धने अपने पांचशिष्यों को पहला उपदेश दियाथा। यहाँ से ही उन्होंने"धर्म चक्र प्रवर्तन" प्रारम्भ किया। यहजैन धर्म अनुयायोंका भी धार्मिकस्थल...

मैकलॉडगंज में इन पांच जगहों पर ज़रूर जाएं

मैकलॉडगंज-हिमाचल प्रदेश  Mcleodganj, Dharamshala, Himachal Pradesh   Budha Statue, Gyuto Karmapa Temple   हिमाचल प्रदेश को आप हिमालय का पैरहन कह सकते हैं। यह दा ग्रेट हिमालय की सबसे नई पहाड़ियों को खुद में समेटे हुए है। यह 55,673वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। हिमाचल प्रदेश नैसर्गिक सौंदर्य और समृद्धि का प्रतीक  है। यह एक ऐसा प्रदेश है जहाँ वर्ष में किसी भी समय जाया जा सकता...

दा ग्रेट हिमालय कॉलिंग….सातवां दिन ऐतिहासिक मुरलीधर का मंदिर, नग्गर, हिमाचल प्रदेश

Kullu-tample
दा ग्रेट हिमालय कॉलिंग....सातवां दिन ऐतिहासिक मुरलीधर का मंदिर, नग्गर The Great Himalayas Calling...Murlidhar Temple,Naggar, Himachal Pradesh Day-07   Murlidhar tample naggar himachal इस सीरीज़ की पिछली पोस्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें: दा ग्रेट हिमालय कॉलिंग....पांचवां दिन, नग्गर नग्गर हिमाचल का एक छोटा क़स्बा माना जा सकता है। यहां अनेक मंदिर हैं। नग्गर यहां बने दुर्ग नग्गर कैसल के लिए बहुत प्रसिद्ध है। जिसके बारे...

मॉनसून मज़ा@ सिंहगढ़ फोर्ट

Singhagad-Fort
मॉनसून मज़ा@ सिंहगढ़ फोर्ट, पुणे, महाराष्ट्र    Add caption   अगर आप भारत में मॉनसून का मज़ा लेना चाहते हैं तो वेस्टर्न घाट ज़रूर जाएं। भारत के पश्चिमी तट पर स्थित पर्वत शृंखला को पश्चिमी घाट कहते है। दक्‍कनी पठार के पश्चिमी किनारे के साथ-साथ यह पर्वतीय शृंखला उत्‍तर से दक्षिण की तरफ 1600 किलोमीटर लम्‍बी है। विश्‍व में जैविकीय विवधता के लिए यह...

भारतीय अरेबिक स्थापत्यकला का उत्कृष्ठ नमूना श्रीनगर की जामा मस्जिद

Kashmir_KaynatKaziPhotography_2015-175
  Main building of Jamia Masjid   कश्मीर में सूफिज़्म की जड़ों की तलाश अभी बाक़ी है मेरे दोस्त। इस सफर का अगला पड़ाव है यहाँ की  जामा मस्जिद। भीड़ भाड़ से भरे पुराने शहर यानी की डाउन टाउन में यह जगह सुकून देने वाली है। मैं डाउन टाउन की ऊंची नीची सड़कों को लांघती हुई जामा मस्जिद पहुंचती हूं। जामा  मस्जिद के दरवाज़े पर बने भारतीय सेना का बंकर...

एक सांझ मेहरानगढ़ फ़ोर्ट में बैठी कठपुतली वाली के साथ…..

Kathputli-Wali-Mehrangarh-Fort-Jodhpur-0268
  एक सांझ मेहरानगढ़ फ़ोर्ट वाली  कठपुतली वाली के साथ.....   जोधपुर के मेहरानगढ़ फ़ोर्ट की आन बान और शान के बारे में आप मेरी पिछली पोस्ट  में पढ़ ही चुके हैं। इस वैभव पूर्ण किले में आपको राजपूती कला और संस्कृति की झलक कई रूपों में देखने को मिलती है। जहां क़िले में एक छोटा सा बाजार है जहां से आप लहरिया...

Power packed NEHRU TROPHY BOAT RACE, Allahpuzha, Kerala

Nehru trophy bosat race-Backwaters-Alleppy-Kerala-KaynatKazi Photography-2016 (9 of 16)
नेहरू ट्रॉफी बोट रेस अलप्पुज़हा, केरला कोचीन से 80 किलोमीटर दूर एक छोटा-सा शहर है अलप्पुज़ा, लेकिन यह शहर पूरी दुनिया मे मशहूर है।  आप सोचते होंगे ऐसी क्या बात है यहाँ। जी हाँ, आज हम आप को ले आए हैं ऐसे ही एक उत्सव मे जिसकी धूम पूरी दुनिया मे होती है। इसका कारण है यहाँ हर साल अगस्त के...

केरल जाएं तो फोकलोर म्यूज़ियम देखना न भूलें….

Folklore-Museum-Kochin-Kerala-KaynatKazi-Photography-2016-13-of-23-960x636
केरल जाएं तो फोकलोर म्यूज़ियम देखना न भूलें.... Dedicated section for the masks in folklore-museum-Cochin-Kerala जब केरल जाने की तैयारी कर रही थी तो आदत के अनुसार इन्टरनेट पर रिसर्च भी काफी की। केरल का नाम आते ही ज़ेहन में सबसे पहले क्या आता है? समुन्दर ,नारियल के पेड़, कथकली, बेक वाटर्स, टी-गार्डन, मंदिरों के ऊँचे-ऊँचे प्रसाद। सफ़ेद साड़ी और गोल्डन...

Goa beyond the beaches-Festival, Adventure & Nature

hot air baloon goa
मदहोश करने वाली भीनी भीनी बारिश की फुहार, मिट्टी से आती सोंधी सोंधी खुश्बू, और घरों के अहातों मे काग़ज़ की नाव चलाते बच्चे. मानसून के दिनों में ऐसे ही कुछ नज़ारा दिखाई देता है गोआ मे. अगर मुझ से पूछा जाए तो गोआ सबसे ज़्यादा खूबसूरत मानसून मे ही नज़र आता है. जब प्रकृति मां जम के बरसती...

एक बार ज़रूर जाएं: रणथम्बोर टाइगर रिज़र्व रणथम्बोर राष्ट्रीय उद्यान

Ranthambore-National-Park-1-960x636
एक बार ज़रूर जाएं: रणथम्बोर टाइगर रिज़र्व/रणथम्बोर राष्ट्रीय उद्यान       हम सभी ने अपने बचपन में टाइगर को चिड़िया घर में  देखा होगा। जंगल के राजा शेर को सर्कस के पिंजरे में दहाड़ते हुए भी देखा होगा पर जंगली जानवरों को खुले जंगल में देखना बहुत अलग अनुभव है। जंगल की प्राकृतिक छठा में  टाइगर को राजा की तरह शान से विचरण...

Must Read

Champaner the first UNESCO heritage site of Gujarat

Champaner the first UNESCO heritage site of Gujarat

Champaner चम्पानेर आज हम आपको लेकर चलेंगे एक ऐसी नगरी जिसका इतिहास दो हज़ार साल पुराना है। यह स्थान एक दस्तावेज़ है हमारी साझी ऐतिहासिक एवं...