Home Hindi

Hindi

ऐसा नहीं है कि हिन्दी में अच्छे ब्लॉग लिखने वालों की कमी है। हिन्दी में लोग एक से एक बेहतरीन ब्लॉग्स लिख रहे हैं। पर एक चीज़ की कमी अक्सर खलती है। जहां ब्लॉग पर अच्छा कन्टेन्ट है वहां एक अच्छी क्वालिटी की तस्वीर नहीं मिलती और जिन ब्लॉग्स पर अच्छी तस्वीरें होती हैं वहां कन्टेन्ट उतना अच्छा नहीं होता। मैं साहित्यकार के अलावा एक ट्रेवल राइटर और फोटोग्राफर हूँ। मैंने अपने इस ब्लॉग के ज़रिये इस दूरी को पाटने का प्रयास किया है। मेरा यह ब्लॉग हिन्दी का प्रथम ट्रेवल फ़ोटोग्राफ़ी ब्लॉग है। जहाँ आपको मिलेगी भारत के कुछ अनछुए पहलुओं, अनदेखे स्थानों की सविस्तार जानकारी और उन स्थानों से जुड़ी कुछ बेहतरीन तस्वीरें।

उम्मीद है, आप को मेरा यह प्रयास पसंद आएगा। आपकी प्रतिक्रियाओं की मुझे प्रतीक्षा रहेगी। आपके कमेन्ट मुझे इस ब्लॉग को और बेहतर बनाने की प्रेरणा देंगे।

मंगल मृदुल कामनाओं सहित आपकी हमसफ़र आपकी दोस्त

डा० कायनात क़ाज़ी

The emerging trend of the traveller & backpacker’s hostel in India

होटल में रहना हुआ पुराना यह है  ट्रैवेलर हॉस्टल का ज़माना   दोस्तों क्वीन फिल्म तो आप सबने ज़रूर देखी होगी। और एक बार तो ऐसा सोचा भी होगा कि काश आप भी कभी ऐसे ही अनजान देश में अनजान दोस्तों के साथ घूमने फिरने का आनंद उठा पाते और जैसे कंगना रनोट ने हॉस्टल में रह कर यूरोप देखा था...

दिलकश नज़ारे दार्जिलिंग के

Darjeeling-KaynatKaziPhotography-2015-8452-960x636
दिलकश नज़ारे दार्जिलिंग के Beautiful landscape of Darjeeling दार्जिलिंग की वादियां जितनी हसीन और दिलकश हैं उससे भी ज़्यादा दिलफ़रेब वहां तक पहुंचने का रास्ता है। हिमालयन रेलवे की छोटी लाइन पर चलने वाली खिलौना रेल गाड़ी जिसे ‘टॉय ट्रेन’ भी कहते हैं न्यू जलपाईगुड़ी से दार्जिलिंग पहुंचने का बहुत पुराना और सैलानियों का पसंदीदा तरीका है। वैसे न्यू जलपाईगुड़ी से...

दा ग्रेट हिमालय कॉलिंग… आठवां दिन मनाली

kaynat-kazi_himalayan-architecture_kullu3_2015
दा ग्रेट हिमालय कॉलिंग... आठवां दिन मनाली The Great Himalayas Calling... Day-08 Beas River@ Manali इस सीरीज़ की पिछली पोस्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें: दा ग्रेट हिमालय कॉलिंग....सातवां दिन ऐतिहासिक मुरलीधर का मंदिर, नग्गर, हिमाचल प्रदेश नग्गर के ऐतिहासिक मुरलीधर का मंदिर देखने के बाद हमें आगे बढ़ना होगा। मुसाफिर के लिए आगे बढ़ना ही ज़िन्दगी है। यह जगह इतनी ख़ूबसूरत है कि...

Switzerland of North East of India- Manipur

Sangai Festival-2016 Manipur-KaynatKazi Photography-2016-www.rahagiri.com (2 of 32)
उत्तर पूर्व का स्विट्ज़रलैंड मणिपुर कोलकाता से उड़ान भर कर जैसे ही हवाई जहाज़ नॉर्थ ईस्ट की ओर आगे बढ़ता है नीचे का नज़ारा बदलने लगता है। हरयाली से भरे मख़मली पहाड़ किसी स्वप्नलोक से जान पड़ते हैं।  ऐसा लगता है कि जैसे एलिस इन वंडरलैंड की दुनिया की ओर खिंचे चले जाते हों। यह पहाड़ कोई और नही बल्कि हिमालय के...

रोमांच और प्रकृति से जुड़ें -गिरी कैम्प सोलन

CampInHimachal_KaynatKaziPhotography_2015-31-1
Giri camp शहरी भाग दौड़ से भरी ज़िन्दगी में अगर बोरियत आ घेरे तो उसे दूर करने का सबसे सरल उपाय है कि कुछ दिन प्रकृति की गोद में गुज़ारे जाएं। जहां न कोई ऑफिस का ईमेल करने  की चिंता हो और न ही फेसबुक पर अपडेट करने की बेचैनी। एक ऐसी जगह जहां फ़ोन भी सिर्फ़ ज़रूरत भर का काम करे।...

एक बार एमस्टर्डम ज़रूर जाएँ

Amsterdam-city-Holland-KaynatKazi-Photography-2016-7-of-22
एमस्टर्डम सही माइनों में एक अन्तर्राष्ट्रीय शहर है, यह यूरोप मे स्थित देश नीदरलैंड की राजधानी है, जिसका एक वैभवशाली इतिहास रहा है। एमस्टर्डम  आधुनिक और प्राचीन धरोहर का संगम है, जहाँ एक ओर उँची-उँची इमारतें हैं वहीं युनेसको की विश्व धरोहर-कैनाल रिंग भी यहाँ मौजूद हैं। सन् 2010 में युनेसको ने इसे विश्व धरोहर की सूची(UNESCO World Heritage...

चश्मे, चिनार, गार्डेन्स और डल लेक आठ घंटों मे…

Kashmir_KaynatKaziPhotography_2015-213
Kashmir day-2  इस श्रंखला की पिछली पोस्ट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें : कश्मीर पहला दिन  कश्मीर दूसरा दिन   Route Map-Places near Dal Lake   चश्मे, चिनार, गार्डेन्स और डल लेक आठ घंटों मे...   कश्मीर मे मेरा आज यह दूसरा दिन है। हमने फैसला किया कि आज श्रीनगर घूमा जाए। सुबह से लेकर शाम तक के आठ घंटों मे आधा श्रीनगर देखना है। श्रीनगर...

The city of sunrise-Auroville-Pondicherry

Pondicherry_2015-33-of-48-960x636
Matrimandir पांडिचेरी से 12 कि.मी. दूर स्थित ऑरोविल (इसे प्रातःकाल का शहर भी कहते हैं) एक ऐसा शहर है जहाँ विभिन्न राष्ट्रीयताएँ और संस्कृतियाँ मिलती हैं। यह शहर विभिन्न देशो से आए लोगों का घर है और यह सही अर्थों में एक अंतर्राष्ट्रीय शहर है। श्री अरबिन्दो  की साथी “दा मदर” ने एक ऐसे शहर की कल्पना की थी जिस...

कुम्भलगढ़ फेस्टिवल की छटा है निराली

Kumbhalgarh-festival-2016-KaynatKazi-Photography-2016-www.rahagiri.com-13-of-32-960x636
कुम्भलगढ़ फेस्टिवल की छटा है निराली Gair Dance at Kumbhalgarh Festival सच कहूँ तो पहले कभी सुना नही था मैंने यह नाम। कुम्भलगढ़ को जानती ज़रूर थी लेकिन उसके विशालतम दुर्ग के लिए न कि फेस्टिवल के लिए, और इतना जानती थी कि ग्रेट वाल ऑफ़ इंडिया भी यहीं है।  राजस्थान टूरिज़्म की तरफ से जब न्योता आया तो जिज्ञासा हुई...

कलरीपायट्टु – प्राचीन भारतीय युद्धकला

Kathakali-centre-Kochin-Kerala-KaynatKazi-Photography-2016-4-of-35-960x636
कलरीपायट्टु - प्राचीन भारतीय युद्धकला फोर्ट कोचीन में ऐसे कई संगठन और केंद हैं जो इस राज्य और नज़दीकी राज्यों में पाई जाने वाली कलाओं के संरक्षण में लगे हैं साथ ही वह इस कला को जीवित रखने के लिए निरंतर प्रयासरत हैं इसी कड़ी में नाम आता है कोचीन सांस्कृतिक केन्द्र Cochin Cultural Centre, यह एक ऐसा स्थान हैं...

Must Read

AHILYA BAI HOLKAR

जनता की प्रिये रानी अहिल्या बाई होल्कर के स्मृति दिवस पर...

#AHILYA BAI HOLKAR आज अहिल्या बाई होलकर के स्मृति दिवस पर मुझे अपनी इंदौर यात्रा याद आ गई। इंदौर शहर के वासियों के दिलों पर...