Home Hindi

Hindi

ऐसा नहीं है कि हिन्दी में अच्छे ब्लॉग लिखने वालों की कमी है। हिन्दी में लोग एक से एक बेहतरीन ब्लॉग्स लिख रहे हैं। पर एक चीज़ की कमी अक्सर खलती है। जहां ब्लॉग पर अच्छा कन्टेन्ट है वहां एक अच्छी क्वालिटी की तस्वीर नहीं मिलती और जिन ब्लॉग्स पर अच्छी तस्वीरें होती हैं वहां कन्टेन्ट उतना अच्छा नहीं होता। मैं साहित्यकार के अलावा एक ट्रेवल राइटर और फोटोग्राफर हूँ। मैंने अपने इस ब्लॉग के ज़रिये इस दूरी को पाटने का प्रयास किया है। मेरा यह ब्लॉग हिन्दी का प्रथम ट्रेवल फ़ोटोग्राफ़ी ब्लॉग है। जहाँ आपको मिलेगी भारत के कुछ अनछुए पहलुओं, अनदेखे स्थानों की सविस्तार जानकारी और उन स्थानों से जुड़ी कुछ बेहतरीन तस्वीरें।

उम्मीद है, आप को मेरा यह प्रयास पसंद आएगा। आपकी प्रतिक्रियाओं की मुझे प्रतीक्षा रहेगी। आपके कमेन्ट मुझे इस ब्लॉग को और बेहतर बनाने की प्रेरणा देंगे।

मंगल मृदुल कामनाओं सहित आपकी हमसफ़र आपकी दोस्त

डा० कायनात क़ाज़ी

The Himalayas calling, this time just for Kashmir

Kashmir
पूरे हिमालय मे एक तिलिस्म है जो मुझे अपनी ओर खींचता रहता है. अभी हिमाचल की यात्रा को कुछ ज़्यादा दिन भी नही गुज़रे हैं कि कश्मीर की यात्रा का विधान बन गया है. जबकि मैने पूरी कोशिश की थी कि बीच में एक बार दक्षिण भारत का एक चक्कर लगा कर आऊंगी पर ऐसा हो ना सका. और...

देवों की दिवाली – देव दिवाली, बनारस

post-processing-2-of-3
देवों की दिवाली - देव दिवाली, बनारस   भारत में दीपावली सबसे बड़ा उत्सव माना जाता है। वैसे तो देश भर में दिवाली उल्लाहस के साथ मनाई जाती है.ऐसा माना जाता है कि दिवाली के साथ उत्सवों और ख़ुशियों का आगमन हो गया है। जब गुलाबी सर्दी की आहट होती है। दिवाली के बाद कार्तिक पूर्णिमा के दिन बनारस में देव दिवाली...

दा ग्रेट हिमालय कॉलिंग….पहला दिन

Himalayas_waterfall_jibhi_-tirthan-valley
The great Himalayas calling Day-1 हमारे देश का गौरव है-दा ग्रेट हिमालय. यह सदियों से कितने ही लोगों को अपनी ओर आकर्षित करता है. साधु संतों को, वैरागियों को, पर्वतारोहियों को और मुझ जैसे राहगीरों को... हर इंसान की तलाश अलग..खोज अलग..कोई ढूंढ़ता आता है शांति,  तो कोई खोज रहा है मोक्ष.. तो कोई प्रकृति की सुंदरता मे बस खो जाना चाहता है...  दा ग्रेट...

अखण्ड भारत के निर्माता थे सरदार पटेल

Sardar_patel
सरदार पटेल की जयंती पर विशेष दो दोस्त बैठ कर छुट्टियाँ प्लान कर रहे थे। एक बोला -यार मेरी बीवी की फरमाइश है की हम इन विंटर वेकेशन्स में राजिस्थान टूर पर जाएं। उसे जयपुर से ब्लॉक प्रिंट की चादरें और बन्धेज की चुनरी, जोधपुर से जूतियाँ,पुष्कर से कैमल लैदर के बैग खरीदनी है और जैसलमेर में सेन्ड डियून्स...

अच्छे ट्रॅवेल ब्लॉगर कैसे बने?

How to become a travel blogger
मुझसे यह सवाल अक्सर लोग पूछते हैं कि अच्छे ब्लॉगर कैसे बना जाए। लिखते तो हम भी है लेकिन ब्लॉगिंग कैसे की जाती है इसके बारे मे ज़्यादा जानकारी नही है। दोस्तों आज मैं आपको ब्लॉगिंग से जुड़ी विस्तृत जानकारी इस लेख मे उपलब्ध करवाउंगी। एक ज़माना था जब लोग लेख लिखा करते थे उसे री राइट किया करते थे...

दा ग्रेट हिमालय कॉलिंग….पांचवां दिन, नग्गर

Naggar-Himachal
The great Himalayas calling....Naggar Castle Day-05 पांचवां दिन - नग्गर   Naggar castle   इस सीरीज़ की पिछली पोस्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें: दा ग्रेट हिमालयकॉलिंग....चौथा दिन-कुल्लू - देकपो शेडरूपलिंग मोनेस्ट्री नग्गर कैसल   विश्व धरोहर नग्गर कैसल में हर साल देशी और विदेशी पर्यटक ठहरना पसंद करते ही हैं साथ ही यह जगह हमारी हिंदी फिल्म इंडस्ट्री को भी खूब लुभाती है। यहाँ कई मशहूर फिल्मों...

सैर कर दुनिया की गाफिल, जिंदगानी फिर कहां?

IMG_0085-960x636
दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्रा कोमल के पिता निर्यात के बड़े कारोबारी हैं। ऐसो-आराम में पली बढ़ी कोमल के लिए बचपन से ही परिवार के साथ घूमने जाना जिंदगी का एक हिस्सा रहा है। लेकिन एक बार जब वह कालेज के दोस्तों के साथ अचानक अल्मोड़ा की यात्रा पर गई तो मानों उसकी जिंदगी ही बदल गई। कोमल कहती हैं, “यह...

रंण उत्सव-2016:रंण उत्सव तो एक बहाना है, गुजरात मे बहुत कुछ दिखाना है….

Runn-Utsav-2016-KaynatKazi-Photography-2016-www.rahagiri.com-19-of-83-960x636
रंण उत्सव-2016 रंण उत्सव तो सिर्फ़ एक बहाना है,  गुजरात मे बहुत कुछ दिखाना है.... यह लाइन किसी ने सही कही है, क्यूंकि रंण उत्सव के बहाने ही मैने बहुत कुछ ऐसा देख डाला जिसे देखने शायद अलग से मैं कभी आती ही नही गुजरात। इस बार मौक़ा था रंण उत्सव मे जाने का। चार दिन की मेरी यह तूफ़ानी यात्रा...

दा ग्रेट हिमालय कॉलिंग….चौथा दिन- कुल्लू – देकपो शेडरूपलिंग मोनेस्ट्री

Shedrup-Ling-Monastery
The Great Himalayas Calling... Day-04 Dhakpo Shedrupling Monastery इस सीरीज़ की पिछली पोस्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें:  दा ग्रेट हिमालयकॉलिंग....तीसरा दिन: कसोल Dhakpo Shedrupling Monastery     हमने कसोल से कुल्लू तक की दूरी 10 किलोमीटेर की है जिसे हमने 1 घंटे में पूरा किया. देखा जाए तो कुल्लू शहर मे ऐसा देखने के लिए कुछ खास नही हैं. कुल्लू अपने आप मे एक वैली...

टाइगर कंट्री-बांधवगढ़ नेशनल पार्क, मध्य प्रदेश

Tiger-Bandhavgarh-Tiger-Reserve-MP-KaynatKazi-Photography-2016-4-of-17-960x636
टाइगर कंट्री-बांधवगढ़ नेशनल पार्क, मध्य प्रदेश बचपन से ही जब भी मैं अपने परिवार के साथ साउथ इंडिया जाती थी तो ट्रेन मध्य प्रदेश के बड़े भाग को क्रॉस करती हुई जाती थी। यह हिस्सा शुरू होते ही खिड़की के बाहर का नज़ारा अपने आप बदल जाता था। यह बताने की ज़रूरत नही पड़ती थी कि हम मध्य प्रदेश में...

Must Read

Property review: Pride hotel, Nagpur, Maharashtra

My First Trip post lockdown लॉक डाउन ने जैसे ज़िन्दगी की चाल ही बदल दी. 22 मई को जैसे पूरा देश जहाँ था वहां ठहर...