Home Hindi

Hindi

ऐसा नहीं है कि हिन्दी में अच्छे ब्लॉग लिखने वालों की कमी है। हिन्दी में लोग एक से एक बेहतरीन ब्लॉग्स लिख रहे हैं। पर एक चीज़ की कमी अक्सर खलती है। जहां ब्लॉग पर अच्छा कन्टेन्ट है वहां एक अच्छी क्वालिटी की तस्वीर नहीं मिलती और जिन ब्लॉग्स पर अच्छी तस्वीरें होती हैं वहां कन्टेन्ट उतना अच्छा नहीं होता। मैं साहित्यकार के अलावा एक ट्रेवल राइटर और फोटोग्राफर हूँ। मैंने अपने इस ब्लॉग के ज़रिये इस दूरी को पाटने का प्रयास किया है। मेरा यह ब्लॉग हिन्दी का प्रथम ट्रेवल फ़ोटोग्राफ़ी ब्लॉग है। जहाँ आपको मिलेगी भारत के कुछ अनछुए पहलुओं, अनदेखे स्थानों की सविस्तार जानकारी और उन स्थानों से जुड़ी कुछ बेहतरीन तस्वीरें।

उम्मीद है, आप को मेरा यह प्रयास पसंद आएगा। आपकी प्रतिक्रियाओं की मुझे प्रतीक्षा रहेगी। आपके कमेन्ट मुझे इस ब्लॉग को और बेहतर बनाने की प्रेरणा देंगे।

मंगल मृदुल कामनाओं सहित आपकी हमसफ़र आपकी दोस्त

डा० कायनात क़ाज़ी

Goa beyond the beaches-Festival, Adventure & Nature

hot air baloon goa
मदहोश करने वाली भीनी भीनी बारिश की फुहार, मिट्टी से आती सोंधी सोंधी खुश्बू, और घरों के अहातों मे काग़ज़ की नाव चलाते बच्चे. मानसून के दिनों में ऐसे ही कुछ नज़ारा दिखाई देता है गोआ मे. अगर मुझ से पूछा जाए तो गोआ सबसे ज़्यादा खूबसूरत मानसून मे ही नज़र आता है. जब प्रकृति मां जम के बरसती...

Visit the town of Heritage Havelies in Mandawa, Rajasthan

Heritage Haweli-Mandawa-Kaynat Kazi Photography-2014
रूट: दिल्ली-बहादुरगढ़-झज्जर-चरखी दादरी-लोहारू-जुनझुनु-मंडावा 233 किलोमीटर 5-6 घंटों की यात्रा बाई रोड मंडावा जाना एक लंबे समय से मेरी विश लिस्ट मे था।  इस जगह के बारे मे मैंने बहुत सुना था।  कहते हैं यह जगह बहुत अनोखी है। राजस्थान के झुनझुनु जिले मे पड़ने वाला एक छोटा सा टाउन पूरे विश्व मे बड़ी प्रसिद्धी रखता है। आख़िर क्यूँ? मेरे मन मे सवाल...

अच्छे ट्रॅवेल ब्लॉगर कैसे बने?

How to become a travel blogger
मुझसे यह सवाल अक्सर लोग पूछते हैं कि अच्छे ब्लॉगर कैसे बना जाए। लिखते तो हम भी है लेकिन ब्लॉगिंग कैसे की जाती है इसके बारे मे ज़्यादा जानकारी नही है। दोस्तों आज मैं आपको ब्लॉगिंग से जुड़ी विस्तृत जानकारी इस लेख मे उपलब्ध करवाउंगी। एक ज़माना था जब लोग लेख लिखा करते थे उसे री राइट किया करते थे...

दिलकश नज़ारे दार्जिलिंग के

Darjeeling-KaynatKaziPhotography-2015-8452-960x636
दिलकश नज़ारे दार्जिलिंग के Beautiful landscape of Darjeeling दार्जिलिंग की वादियां जितनी हसीन और दिलकश हैं उससे भी ज़्यादा दिलफ़रेब वहां तक पहुंचने का रास्ता है। हिमालयन रेलवे की छोटी लाइन पर चलने वाली खिलौना रेल गाड़ी जिसे ‘टॉय ट्रेन’ भी कहते हैं न्यू जलपाईगुड़ी से दार्जिलिंग पहुंचने का बहुत पुराना और सैलानियों का पसंदीदा तरीका है। वैसे न्यू जलपाईगुड़ी से...

हरिद्वार – एक यात्रा आध्यात्म और शान्ति की ओर

Haridwar-960x636
  Haridwar in Blue hour भोर का नीला उजाला,पूरब में सिंदूरी लालिमा, वायु में सुगन्धी अगरबत्तियों की महक, मंदिर की घंटियाँ, दूर से आती शंखनाद, हर हर गंगे की स्वर लहरी, कलकल बहता गंगाजल और घाटों पर जुटती श्रद्धालुओं की भीड़ जैसे मेला लगा हो. यह महान द्रश्य है हरिद्वार स्थित “हर की पौड़ी” का जहाँ की सुबह रोज़ ही आध्यात्म...

The city of sunrise-Auroville-Pondicherry

Pondicherry_2015-33-of-48-960x636
Matrimandir पांडिचेरी से 12 कि.मी. दूर स्थित ऑरोविल (इसे प्रातःकाल का शहर भी कहते हैं) एक ऐसा शहर है जहाँ विभिन्न राष्ट्रीयताएँ और संस्कृतियाँ मिलती हैं। यह शहर विभिन्न देशो से आए लोगों का घर है और यह सही अर्थों में एक अंतर्राष्ट्रीय शहर है। श्री अरबिन्दो  की साथी “दा मदर” ने एक ऐसे शहर की कल्पना की थी जिस...

गर्ल्स जब अकेले ट्रॅवल करें तो इन पाँच बातों का ध्यान रखें

Bundi_2015
टिप्स: फीमेल ट्रैवलर्स के लिए गर्ल्स जब अकेले ट्रॅवल करें तो इन पाँच बातों का ध्यान रखें   हर लड़की की ख्वाहिश होती है कि वह पंख लगा कर सारा आकाश छू ले. सारी दुनियाँ घूमें, नई नई जगह देखे, उसे जाने समझे…नए नए लोगों से मिले...दुनिया को अपनी नज़र से देखे ना की दूसरों के नज़रिए से, पर  हम में...

कलरीपायट्टु – प्राचीन भारतीय युद्धकला

Kathakali-centre-Kochin-Kerala-KaynatKazi-Photography-2016-4-of-35-960x636
कलरीपायट्टु - प्राचीन भारतीय युद्धकला फोर्ट कोचीन में ऐसे कई संगठन और केंद हैं जो इस राज्य और नज़दीकी राज्यों में पाई जाने वाली कलाओं के संरक्षण में लगे हैं साथ ही वह इस कला को जीवित रखने के लिए निरंतर प्रयासरत हैं इसी कड़ी में नाम आता है कोचीन सांस्कृतिक केन्द्र Cochin Cultural Centre, यह एक ऐसा स्थान हैं...

एक सांझ मेहरानगढ़ फ़ोर्ट में बैठी कठपुतली वाली के साथ…..

Kathputli-Wali-Mehrangarh-Fort-Jodhpur-0268
  एक सांझ मेहरानगढ़ फ़ोर्ट वाली  कठपुतली वाली के साथ.....   जोधपुर के मेहरानगढ़ फ़ोर्ट की आन बान और शान के बारे में आप मेरी पिछली पोस्ट  में पढ़ ही चुके हैं। इस वैभव पूर्ण किले में आपको राजपूती कला और संस्कृति की झलक कई रूपों में देखने को मिलती है। जहां क़िले में एक छोटा सा बाजार है जहां से आप लहरिया...

Power packed NEHRU TROPHY BOAT RACE, Allahpuzha, Kerala

Nehru trophy bosat race-Backwaters-Alleppy-Kerala-KaynatKazi Photography-2016 (9 of 16)
नेहरू ट्रॉफी बोट रेस अलप्पुज़हा, केरला कोचीन से 80 किलोमीटर दूर एक छोटा-सा शहर है अलप्पुज़ा, लेकिन यह शहर पूरी दुनिया मे मशहूर है।  आप सोचते होंगे ऐसी क्या बात है यहाँ। जी हाँ, आज हम आप को ले आए हैं ऐसे ही एक उत्सव मे जिसकी धूम पूरी दुनिया मे होती है। इसका कारण है यहाँ हर साल अगस्त के...

Must Read

Five day long ‘Bharat Parv’ at Red Fort aimed at showcasing...

लाल किले में एक भारत, श्रेष्ठ भारत की भावना दर्शाने वाले पांच दिवसीय ‘भारत पर्व’ का आयोजन तो क्या प्लान है इस वीकेंड का जनाब...