IMG_1972-1-960x636

 

क्या फॉरेन ट्रिप की प्लानिंग ने सिर चकरा दिया?

क्या वीसा के झंझट आपको समझ नहीं आते?

यूरोप में कहाँ ठहरें?

बजट में कैसे यूरोप घूमा जाए?

अगर ऐसे सवाल आपको परेशान करते हैं तो यह पोस्ट ज़रूर पढ़ें।

IMG_1972-1-960x636

दोस्तों अपने देश में घूमना जितना आसान और सस्ता है उतना शायद दुनिया में कहीं भी नहीं है। लेकिन आप अगर यूरोप घूमने जाना चाहते हैं लेकिन दिल में बहुत सारी उलझने हैं तो उन उलझनों का हल है मेरे पास। यह मैंने अपने से पहले गए ट्रैवलर लोगों और अपने अनुभवों से जाना है और खुद आज़माया भी है। आप भी इन बातों को ध्यान में रख कर अपनी यूरोप ट्रिप को यादगार बना सकते हैं।

  1. रिसर्च है मददगार

दोस्तों यूरोप यात्रा का अगर आप मन बना चुके हैं तो ज़रूरी है कि अपने ट्रेवल को प्लान करने से पहले आप उस जगह के बारे में जितना हो सके उतना पढ़ लें और रिसर्च कर लें। आज कल इंटरनेट पर लोग अपने अनुभव बड़े आराम से शेयर करते हैं। इन अनुभवों से आपको बहुत मदद मिलेगी। आपको अपनी यात्रा प्लान करने के लिए महंगे टूर पैकेज नहीं खरीदने पड़ेंगे। आप अपनी ट्रिप खुद प्लान कर सकते हैं।

  1. वीसा मिलना अब नहीं मुश्किल

दोस्तों एक समय था कि किसी भी देश के वीसा के लिए ट्रेवल एजेंट की सर्विस लेनी पड़ती थी और बदले में उनको कमीशन भी देना होता था। लेकिन अब इसके लिए आपको किसी ट्रेवल एजेंट की ज़रूरत नहीं है। दुनिया में कहीं के भी वीसा के लिए अब आप एक ही छत के नीचे वीसा के लिए एप्लाई कर सकते हैं इसके लिए एम्बेसी के बाहर लाइन में लगने की ज़रूरत नहीं है। अब आप खुद ही अपना वीसा ले सकते हैं और यह बड़ा आसान भी है। अब सब कुछ ऑनलाइन हो चुका है। वी.एफ.एस ग्लोबल (http://www.vfsglobal.com/) एक अंतरराष्ट्रीय आईटी कंपनी है जो दुनियां भर की अम्बेसियों के लिए वीसा प्रोसेसिंग का काम करती है। आपको बस इतना करना है कि जिस देश में आप जाना चाहते हैं वहां का वीसा फॉर्म ऑनलाइन जाकर डाउनलोड करना है। फॉर्म के साथ गाइडलाइन्स भी दी हुई हैं उसके अनुसार सारे डाक्यूमेंट्स पूरे करके नज़दीकी वी.एफ.एस ग्लोबल के ऑफिस में अपॉइंटमेंट लेकर जमा करायें। इसके लिए अपॉइंटमेंट आप अपनी सुविधा के अनुसार ले सकते हैं वह भी ऑनलाइन मिलता है।

IMG_1974

 

यह पूरी प्रक्रिया बड़ी ही आसान और सुविधाजनक है। आपको वी.एफ.एस ग्लोबल के ऑफिस सिर्फ 2 बार जाना होता है, एक बार अपनी एप्लीकेशन जमा करने और दूसरी बार अपना पासपोर्ट कलेक्ट करने। पर याद रखें जब आप अपनी एप्लीकेशन जमा करने जा रहे हों तो चेक लिस्ट में दिए गए सारे निर्देश पूरे किये होने चाहिए। वीसा फीस कैश में जमा होती है इसलिए पर्याप्त कैश साथ लेकर जाएँ। अधिक जानकारी के लिए नीचे क्लिक करें

http://www.vfsglobal.com/services_solutions/visa_and_passport_application_processing_services.asp

 

  1. शेंगेन वीसा है कमाल

दोस्तों यूरोप में एक बात बहुत अच्छी है,  वहां कई सारे देश आस-पास ही हैं। अगर आप बेहतर ढंग से प्लान करेंगे तो कम समय में ज़्यादा जगह घूम पाएंगे। यूरोप में एक साथ कई सारे देश घूमने के लिए आपको अलग अलग देशों से वीसा लेने की ज़रूरत नहीं है। इसके लिए आपको केवल एक शेंगेन वीसा लेना होता है जिसके साथ आप यूरोप के कई देशों में आसानी से घूम सकते हैं। शेंगेन वीसा की अधिक जानकारी के लिए नीचे क्लिक करें

shengen_visa

http://www.schengenvisainfo.com/

 

  1. चैक द डील्स

दोस्तों शेंगेन वीसा की लम्बी चैक लिस्ट देख कर घबराने की ज़रूरत नहीं है,  उसका भी इलाज मौजूद है।  शेंगेन वीसा आपसे मांगता है, होटल और फ्लाइट की कन्फर्मेशन बुकिंग। इसके लिए आप एक काम कर सकते हैं।  आप अपनी फ्लाइट और होटल की बुकिंग क्रेडिट कार्ड से करें। और बुकिंग करते हुए यह ध्यान रखें कि बुकिंग कैंसलेशन फ्री हो। ऐसी कई सारी वेबसाइट हैं जो यह सुविधा देती हैं। इसके लिए आप booking.com  से बुक कर सकते हैं। इसके बाद बुकिंग्स की कन्फर्मेशन की कॉपी वीसा एप्लीकेशन के साथ लगाएं और फिर ऐसी बहुत सारी वेबसाइट हैं जो यूरोप में होटल की सस्ती डील देती हैं,  उन पर नज़र रखें। एक बार वीसा हो जाने पर आप अपने होटल की महंगी बुकिंग को कैंसिल करके कहीं भी सस्ती बुकिंग कर सकते हैं। booking.com आपको स्टे के एक दिन पहले तक फ्री कैंसिलेशन की सुविधा देता है।

  1. एयर लाइन्स की डील्स से स्टॉप ओवर का लाभ उठाएं

दोस्तों ऐसी बहुत सारी एयरलाइन्स हैं जो कनेक्टिंग फ्लाइट्स में स्टॉप ओवर की सुविधा देती हैं। जैसे आपको अगर स्वीडन जाना है और आप एम्स्टर्डम होकर स्वीडन जा रहे हैं तो आप एमस्टरडम में 2-5 दिन का स्टॉप ओवर कर सकते हैं। बिना अतिरिक्त पैसे दिए। इसके लिए थोड़ी रिसर्च तो करनी पड़ेगी।

  1. ट्राई काउच सर्फिंग

अगर आप एडवेंचर के शौक़ीन हैं और लोगों से मिलना जुलना आपको पसंद है तो आप सारी दुनियां बहुत कम पैसे ख़र्च करके भी घूम सकते हैं। काउच सर्फिंग एक ट्रेवलर्स की कम्युनिटी है जिस में लोग कहीं भी जाते हैं और लोकल लोगों के घर में 1-2 दिन के लिए ठहर सकते हैं। जिसके बदले में आप अपने होस्ट को कुछ सिखा सकते हैं। आपको अपने होस्ट के घर में रात गुज़ारने के लिए एक कोना या फिर पूरा कमरा मिल सकता है। इसके लिए आपको काउच सर्फिंग की साइट पर मेंबर बनना होता है। काउच सर्फिंग की अधिक जानकारी के लिए नीचे क्लिक करें।

https://www.couchsurfing.com

  1. ट्रेवल कार्ड है सेफ

आम तौर पर यूरोप में एक ही करेंसी- यूरो चलती है। यूरो और भारतीय रूपये में बहुत फ़र्क़ है। एक यूरो की कीमत लगभग 75 रूपए है। इसलिए कोशिश करे कि जब आप ट्रेवल का प्लान कर रहे हों तो पहले से यूरो के रेट पर नज़र रखें। जिस दिन यूरो थोड़ा सस्ता हो खरीद लें। अगर आप ज़्यादा कैश कैरी नहीं करना चाहते तो ट्रेवल फोरेक्स कार्ड एक अच्छा विकल्प है। यह किसी भी बैंक से लिया जा सकता है। आप क्रेडिट कार्ड की जगह फॉरेक्स कार्ड का प्रयोग करें। लेकिन फॉरेक्स कार्ड में ज़्यादा यूरो न डलवाएं क्यूंकि वापस आने पर आपको बचे हुए यूरो सेल करने होंगे जिसका रेट कम होता है। ज़रूरत पड़ने पर ऑनलाइन बैंकिंग से फोरेक्स कार्ड में मनी लोड करें।

IMG_2307

  1. लोकल ट्रांसपोर्ट पास से करें बचत

दोस्तों यूरोप के ज़्यादातर जगहों पर लोकल ट्रांसपोर्ट पास सिस्टम काम करता है। आप एक एक टिकट खरीदने से ज़्यादा पैसे खरचते हैं इसकी जगह आप अपने स्टे के अनुसार 24 घंटे या 48 या 72 घंटो के लिए वैलिड रहने वाला पास ले सकते हैं। आम तौर पर यह पास ट्राम, बस और बोट सभी में चल जाता है।

 

IMG_2390

  1. ट्रेवल लाइट

यह मूल मन्त्र है यूरोप ट्रिप को यादगार बनाने का। क्यूंकि यूरोप में लोकल ट्रांसपोर्ट सिस्टम बहुत अच्छा है और सस्ता भी है इसीलिए वहां सभी लोकल ट्रांसपोर्ट यूज़ करते हैं। और क्यूंकि इंडियन रुपए में और यूरो में इतना फ़र्क़ है इसलिए भी लोकल ट्रांसपोर्ट यूज़ करना फायदे का सौदा है। पर लोकल ट्रांसपोर्ट यूज़ करने के लिए पहली शर्त है कि आप अपने साथ सामान ज़्यादा न लेकर चलें। यूरोप में बहुत चलना पड़  जाता है, इसलिए आपका सामान बहुत लाइट होना चाहिए। फैशन के चक्कर में हर ड्रेस की मैचिंग एक्सेसरी रखेंगी तो एक बड़ी ट्रॉली बन जाएगी और फिर जब बहुत दूर तक चलना पड़ेगा तो वही ट्राली जान पर आएगी। इसलिए कैप्सूल पैकिंग पर ज़ोर दें और अपनी ट्रिप एन्जॉय करें।

IMG_2489

 

  1. इंटरनेशनल कालिंग के लिए वाई-फाई का करें इस्तेमाल

दोस्तों योरोप से वापस भारत काल करना बहुत महंगा है, इंटरनेशनल रोमिंग पेक डलवाने के बाद भी। इसलिए घर फ़ोन करने के लिए होटल के वाई-फाई का प्रयोग करें। यूरोप में ज़्यादातर कैफ़े वाई फाई की सुविधा देते हैं। आप इसका प्रयोग करके बचत कर सकते हैं।

दोस्तों अगर आप इन बातों का ध्यान रखेंगे तो आपकी यूरोप यात्रा का अनुभव हमेशा के लिए यादगार बन जाएगा।

यूरोप डायरी के पन्नों से कुछ और क़िस्से आपके साथ साझा करुँगी अगली पोस्ट में।

तब तक खुश रहिये और घूमते रहिये

आपकी हमसफ़र आपकी दोस्त

डा० कायनात क़ाज़ी

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here