Happy Basant Panchami-2018

happy-basant-panchami-2018
सभी मित्रों को बसंत पंचमी की ढ़ेर सारी शुभकामनाएं   वैसे तो बसंत पंचमी पूरे भारत में मनाई जाती है लेकिन इसका जितने ज़ोरो शोर से स्वागत बंगाल में होता है इतना कहीं और देखने को नहीं मिलता। माँ शारदे के स्वागत में पूरा कुमारटुली जनवरी के शुरू होते ही जुट जाता है। आपको बता दूँ कि कोलकाता का कुमारटुली एक ऐसा...

why I love the Gangtok city in sikkim

Sikkim-Madhya Pradesh-©Kaynat Kazi Photography-www.rahagiri.com (60 of 107)
गंगटोक भारत के सबसे छोटे प्रदेश सिक्किम की राजधानी है गंगटोक। हिमालय के उत्तरी दामन में बसा है यह खूबसूरत शहर गैंगटॉक। इसलिए वर्ष भर यहाँ प्रकृति की बहार देखने को मिलती है। चाहे वो गर्मी हो या सर्दी हर मौसम अपने साथ कुछ अनोखा लेकर आता है। वैसे तो सिक्किम पूरा का पूरा देखने लायक़ है। लेकिन आज हम...

A showcase of exotic handicrafts by women of Rural India-Saras Mela 2017

-women empowermentFemale Articians of Rural India-©Kaynat Kazi Photography-www.rahagiri.com (16 of 27)
हुनरमंद महिलाओं के संघर्ष की दास्ताँ - सरस मेला-2017 हर साल दिल्ली में आयोजित ट्रेड फेयर में देश दुनिया से आए हुनरमंदों की कला के दर्शन होते ही हैं लेकिन इस बार कुछ ऐसा देखने को मिला जिसकी चर्चा किये बिना नहीं रहा जा सकता है। अलग-अलग राज्यों के पेवेलियन के बीच मुस्कुराते स्टॉल सरस मेला 2017 का हिस्सा हैं। इन...

Pride of Madhya Pradesh-the Glorious Gwalior

ग्वालियर की सरहद मे दाखिल होते ही अगर कोई चीज़ आपका ध्यान बरबस ही खींच ले तो वो है, ग्वालियर शहर का केंद्र बिंदु यहाँ का क़िला। 300 फिट की ऊंचाई पर पहाड़ी पर बना यह अभेद दुर्ग गवाह है परमार राजवंश के गौरवपूर्ण इतिहास का। यह क़िला 8 वीं शताब्दी मे बना और इसने कई राजवंशों का समय देखा। यहाँ के लोगों...

A holy city in the middle of mountains-Namchi, Sikkim

Budha Park-Namchi-Sikkim-©Kaynat Kazi Photography-www.rahagiri.com (20 of 107)
पहाड़ों से घिरा एक आध्यात्मिक शहर-नाम्ची सिक्किम नामची दक्षिणी सिक्किम मे पड़ने वाला एक बेहद हसीन और खूबसूरत शहर है.यह शहर पहाड़ों के बीच बसा है और यह चारों ओर से ख़ूबसूरत पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यह समुद्र तल से 1,675 मीटर की ऊंचाई पर है। नामची गंगटोक से लगभग 92 किलोमीटर और सिल्लीगुड़ी से 90 किलोमीटर की दूरी...

Recipe Lamb valdostana by Chef Ajit Kumar

“Men Look Hot When They Cook” Signature dish by the Master Chef To proof this saying RAHAGIRI-FOOD presenting you a series on the signature dishes by the famous chefs of India. We will feature the master chefs from the five-star resorts & hotels in the Lifestyle section on our website-www.rahagiri.com In this series, you will find the authentic & finest recipes which...

Goa beyond the beaches-Festival, Adventure & Nature

hot air baloon goa
मदहोश करने वाली भीनी भीनी बारिश की फुहार, मिट्टी से आती सोंधी सोंधी खुश्बू, और घरों के अहातों मे काग़ज़ की नाव चलाते बच्चे. मानसून के दिनों में ऐसे ही कुछ नज़ारा दिखाई देता है गोआ मे. अगर मुझ से पूछा जाए तो गोआ सबसे ज़्यादा खूबसूरत मानसून मे ही नज़र आता है. जब प्रकृति मां जम के बरसती...

Bonderam festival of south Goa in monsoon

The feast of Bonderam is celebrated on the fourth Saturday of August every year at Divar Island, 12-km from Panjim. The name Bonderam revolves around the involvement of flags which in itself is an interesting story.   The "Bonderam" festival is celebrated on the Island of Divar on the fourth Saturday of August every year. The word "BoNnderam" originated from the...

Power packed NEHRU TROPHY BOAT RACE, Allahpuzha, Kerala

Nehru trophy bosat race-Backwaters-Alleppy-Kerala-KaynatKazi Photography-2016 (9 of 16)
नेहरू ट्रॉफी बोट रेस अलप्पुज़हा, केरला कोचीन से 80 किलोमीटर दूर एक छोटा-सा शहर है अलप्पुज़ा, लेकिन यह शहर पूरी दुनिया मे मशहूर है।  आप सोचते होंगे ऐसी क्या बात है यहाँ। जी हाँ, आज हम आप को ले आए हैं ऐसे ही एक उत्सव मे जिसकी धूम पूरी दुनिया मे होती है। इसका कारण है यहाँ हर साल अगस्त के...

Every traveler’s dream a road journey to-Leh Ladakh

हर ट्रैवेलर का सपना- लेह लद्दाख तक रोड यात्रा वैसे तो लद्दाख जाना किसी भी मौसम मे सुहावना है लेकिन मानसून की बात ही कुछ और है। रेगिस्तान होने के बावजूद लद्दाख बरसात के प्रभाव से अछूता नहीं रह पाता। चारों तरफ हरयाली नज़र आने लगती है। जिसे देख कोई अंदाज़ा भी नहीं लगा सकता की सर्दियों में यहाँ...

Must Read

मॉनसून का मज़ा लें एमरेल्ड ग्रीन राज्य केरल में

#कोचीन केरल का नाम आते ही ज़ेहन में सबसे पहले क्या आता है?  समुन्दर,नारियल के पेड़, कथकली, बेक वाटर्स, टी-गार्डन, मंदिरों के ऊँचे-ऊँचे प्रसाद, पारम्परिक...